Category: संपादकीय

पूंजीवाद सर्वश्रेष्ठ स्वरूप में

एक ऐसे दौर में जब पूंजीवाद और पूंजीवादियों को गाली देना स्मार्ट राजनीति समझा जाता है, टाटा का नाम मन में ज़िम्मेवारी, सम्मान और गरिमा का भाव जगाता है। कुछ ही दिन पहले, या सटीक तारीख़ बताएँ तो 5 फरवरी, 2021...

टीकाकरण चरण II – वाइरस के खिलाफ लड़ाई में एक नया मोड़

आज टीकाकरण के चरण II के साथ भारत कोरोनावायरस के खिलाफ लड़ाई में एक महत्वपूर्ण चरण में प्रवेश कर रहा है। 60 से ऊपर के लोगों के लिए और सह-रुग्णता वाले 45 से ऊपर के लोगों के लिए कोविड -19 टीकाकरण...

टीकाकरण के दूसरे चरण पर सबकी नज़र

टीकाकरण का दूसरा चरण काफ़ी महत्वपूर्ण साबित होगा. जैसा कि विशेषज्ञों द्वारा रेखांकित किया जा चुका है, टीकाकरण के दूसरे चरण से न केवल देश में मामलों की संख्या और देश के विभिन्न हिस्सों में सुपर-फैलने की घटनाओं को कम करने...

भारत की विजयी वैक्सीन-मैत्री पहलकदमी

भारत की वैक्सीन मैत्री पहलकदमी की पूरी दुनिया में प्रशंसा हो रही है और आने वाले दिनों में देश के लिए अंतर्राष्ट्रीय सद्भावना पैदा करने में यह काफ़ी उपयोगी साबित होगी. यह एक अच्छी बात है कि दुनिया के अधिकांश देशों...

पाकिस्तान और बांग्लादेश में अल्पसंख्यकों की त्रासद स्थिति

एक लंबे अरसे से, सच कहें तो पाकिस्तान बनने के दिन से ही, पूरे विश्व ने पाकिस्तान में अल्पसंख्यक धार्मिक समुदायों, जैसे कि हिंदुओं, ईसाइयों, सिखों, हजारा तथा अहमदिया समुदाय पर होनेवाले अत्याचारों की ओर आंखें मूंद रखी हैं। यह सचमुच...