बैंक कर्मी 15-16 मार्च को देशव्यापी हड़ताल की तैयारी में

जमशेदपुर: बैंक कर्मचारियों के संगठनों ने आगामी 15 व 16 मार्च को केंद्र सरकार की निजीकरण नीति के ख़िलाफ़ देशव्यापी हड़ताल की घोषणा की है.

बैंककर्मियों के संगठनों का कहना है कि केंद्र सरकार की नीतियों के खिलाफ देश का हर वर्ग लगभग आन्दोलित है. किसान से लेकर मजदूर, छात्र से लेकर युवा. हर वर्ग किसी न किसी रूप से सड़क पर आंदोलन को बाध्य हैं.

बैंक यूनियन भी बैंकों के निजीकरण और मर्जर से विरोध में आंदोलित हैं. शुक्रवार को जमशेदपुर में यूनाइटेड फोरम ऑफ बैंक यूनियन की ओर से आगामी 15 और 16 मार्च को देशव्यापी हड़ताल को सफल बनाने की अपील करते हुए आम लोगों से इसमें हिस्सा लेने की अपील की गयी.

यूनियन के लोगों ने केंद्रीय वित्त मंत्रालय को बैंकों की दुर्दशा के लिए सीधे जिम्मेदार ठहराया.

गौरतलब है कि देशभर के नौ यूनियनों के 10 लाख बैंक कर्मी और अधिकारी केंद्र सरकार के खिलाफ चरणबद्ध विरोध कर रहे हैं. वहीं बैंककर्मियों ने किसान आंदोलन और बढ़ते बेरोजगारी के लिए केंद्र सरकार को जिम्मेदार ठहराया है.

Leave a Reply