टाटा स्टील के सौजन्य से आठ मार्च को महिलाओं को मिलेगा रोमांच मौका

अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस पर पर्वतारोहण व पानी के खेलों में दिखा सकेंगी प्रतिभा


टीएसएएफ ने बनाए कई कार्यक्रम, जमशेदपुर व उत्तराखंड में होगा आयोजन

जमशेदपुरः महिलाओं को सशक्त बनाने की अपनी प्रतिबद्धता और उद्देश्य के अनुरूप आठ मार्च को महिला दिवस मनाने के लिए टाटा स्टील एडवेंचर फाउंडेशन (टीएसएएफ) ने कई कार्यक्रमों की योजना बनाई है। ये आयोजन अलग-अलग अवधि के हैं और अलग-अलग स्थानों पर होंगे और इस प्रकार, ये हिस्सा लेने, अनुभव करने और अवसर का जश्न मनाने के लिए लचीलापन और अवसर प्रदान करेंगे।

ये आयोजन जमशेदपुर और उत्तराखंड के विभिन्न हिस्सों में होंगे। इसमें लीडरशिप डेवलपमेंट अभियान, रॉक क्लाइम्बिंग और वाटर स्पोर्ट्स आदि शामिल हैं। ये सभी अभियान विशेष रूप से महिलाओं के लिए हैं और इनका नेतृत्व टीएसएएफ की महिला पर्वतारोहियों द्वारा किया जाएगा। सभी इवेंट इस वर्ष के विषय ‘चूज टू चैलेंज’ पर आधारित हैं। सभी इवेंट की योजना टीएसएएफ ने बनाई है और ये सभी एडवेंचर से मूल तत्वों से भरपूर तथा आउटडोर होंगे।


इन कार्यक्रमों का मुख्य उद्देश्य महिलाओं को उनके सुविधा क्षेत्र से बाहर निकाल कर दूर जंगल और एडवेंचर के रोमांच का अनुभव कराना है। पहले लीडरशिप अभियान का नेतृत्व माउंट एवरेस्ट की पहली भारतीय महिला विजेता बछेन्द्री पाल द्वारा किया जाएगा। यह पांच दिवसीय अभियान होगा, जो 6 मार्च को देहरादून/मसूरी से शुरू होगा और प्रतिभागियों के लिए यह उनके व्यक्तिगत अनुभवों से सीखने का एक शानदार अवसर होगा।

दूसरा लीडरशिप अभियान माउंट एवरेस्ट की एक अन्य विजेता पूनम राणा के साथ दयारा टॉप पर होगा। यह बर्फीली चोटियों का अनुभव करने और स्वयं को और साथी ट्रेकर्स को प्रेरित करते हुए एक के नेतृत्व कौशल को बाहर लाने का सुनहरा मौका होगा। यह अभियान 6 मार्च को शुरू होगा और 12 मार्च को समाप्त होगा।


तीसरी आउटडोर गतिविधि एक दो-दिवसीय लीडरशिप डेवलपमेंट प्रोग्राम है, जो 8 मार्च को जमशेदपुर के तुमुंग और डिमना में शुरू होगा। इसमें छोटी-छोटी टीमों में रॉक क्लाइम्बिंग और जंगल में कैम्पिंग शामिल होगा। दूसरे दिन वाटर स्पोर्ट्स टीम गतिविधियां होंगी, जो प्रतिभागी के नेतृत्व कौशल को चुनौती देगी। इसका नेतृत्व एल अन्नपूर्णा, अस्मिता दोरजी और स्वर्णलता दलाई करेंगी।


चौथी गतिविधि एक-दिवसीय वाटर स्पोर्ट्स एडवेंचर के रूप में है, जहाँ एक में तैरती नाव पर झील के बीच में नाश्ता किया जा सकता है, कुछ कयाकिंग, तैराकी कर सकते हैं, पैडल बोट की सवारी और खेल भी सकते हैं। इस चौथे अभियान का नेतृत्व 7 चोटियों को फतह करने वाली पहली भारतीय महिला प्रेमलता अग्रवाल करेगी। यह 8 मार्च को निर्धारित है।


सभी इवेंट कोविड-19 के जोखिमों को न्यूनतम करने के लिए टीएसएएफ द्वारा तैयार किए गए मानक दिशानिर्देशों के अनुसार सभी सुरक्षा प्रोटोकॉल का पालन करते हुए पूरे किए जाएंगे।
अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस एक वैश्विक दिवस है, जो महिलाओं की सामाजिक, आर्थिक, सांस्कृतिक और राजनीतिक उपलब्धियों का जश्न मनाता है। इस मौके पर दुनिया भर में महत्वपूर्ण गतिविधियां आयोजित की जाती हैं, क्योंकि समूह महिलाओं की उपलब्धियों का जश्न मनाने या महिलाओं की समानता का आह्वान करने के लिए एकजुट होते हैं।

Leave a Reply