सोनारी मरीन  ड्राइव पर कार में जलकर मरने को परिवार ने माना हादसा, पुलिस ने दर्ज किया अस्वाभाविक मौत का मामला

जमशेदपुर। सोनारी थाना अंतर्गत मरीन ड्राइव  बीती रात चलती कार में आग लगने से झुलस कर हुई पोटका के मूल निवासी अजय पाल की मौत को उनके परिजनों ने पहली नज़र में  हादसा  माना है । इसीलिए  थाने में किसी के खिलाफ मामला दर्ज नहीं कराया है। पुलिस ने भी अभी अस्वाभाविक मौत का ही मामला माना है और ऐसा ही केस भी दर्ज किया है। 

उधर बुधवार को शव का पोस्टमार्टम किया गया। शव की पहचान अजय के भाई विजय पाल ने की।  पोस्टमार्टम के बाद शव को अंतिम संस्कार के लिए स्वर्णरेखा बर्निंग घाट ले जाया गया।

मृतक के भाई विजय ने बताया कि उन्हें गांव  के मुखिया ने बीती देर रात फोन पर घटना कि जानकारी दी। सूचना पाकर वे थाना पहुंचे।

उन्होंने बताया कि यह एक दुर्घटना हो सकती है। कार में शॉर्ट सर्किट से आग लगी होगी जिसमे जलने से अजय की मौत कार के अंदर ही हो गई। 

विजय ने बताया 15 फरवरी को अजय के शादी की सालगिरह थी। घटना के पूर्व बच्चों को कार में घुमाया और फिर वापस छोड़ घर छोड़कर निकाल गया। थोड़ी देर बाद सूचना मिली की कार में आग लगने से उसकी मौत हो गई है। 

Leave a Reply